Report
/
रिपोर्ट

पालनहार योजना बनी बच्चों का सहारा

  • Team Hind Kisan
  • |
  • Aug. 24, 2019

राजस्थान में चल रही पालनहार योजना जरूरतमंदों के लिए कारगर साबित हो रही है. प्रदेश के तीन लाख से ज्यादा लोग इस योजना का लाभ उठा रहे हैं.

Read more


खनन के खिलाफ ग्रामीणों का प्रदर्शन

  • Team Hind Kisan
  • |
  • Aug. 23, 2019

छत्तीसगढ़ के कांकेर में मेटाबोदली माइंस के खिलाफ ग्रामीणों का प्रदर्शन आठ दिनों से जारी है. ये ग्रामीण खादान प्रबंधन पर मनमानी का आरोप लगा रहे है. छत्तीसगढ़ के कांकेर से जयंत कंकारी की रिपोर्ट.

Read more


पंजाब में बाढ़ का कहर

  • Team Hind Kisan
  • |
  • Aug. 23, 2019

देश के कई जिलों की तरह पंजाब भी इन दिनों बाढ़ की मार झेल रहे है. प्रदेश में बाढ़ के कहर को लेकर आपदा मंत्री गुरप्रीत कांगड़ा से खास बातचीत की हमारी संवाददाता ईशा ठाकुर ने.

Read more


छत पर सब्जियों की खेती

  • Team Hind Kisan
  • |
  • Aug. 23, 2019

राजस्थान के जयपुर में ताजी सब्जियों की चाह रखने वाले कई परिवार अपनी छत पर ही सब्जियां उगा रहे हैं वो भी बिना मिट्टी के. रामस्वरूप लामरोड़ की रिपोर्ट.

Read more


View more

समाचार

उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र में सड़कों पर उतरे किसान
Nov. 12, 2018

किसानों की बेहतरी के तमाम दावों के बावजूद उन्हें अपनी मांगों के लिए सड़कों पर प्रदर्शन करने के लिए मजबूर होना पड़ता है। महाराष्ट्र के सोलापुर में स्वाभिमानी किसान संगठन की अगुवाई में गन्ना किसानों ने सोलापुर-बीजापुर हाईवे को जाम कर प्रदर्शन किया।


पंजाब में बढ़े पराली जलाने के मामले
Nov. 10, 2018

पंजाब में धान की पराली जलाने के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। पंजाब प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार इस साल 27 सितंबर से 9 नवंबर के बीच राज्य में पराली जलाने की कुल 39,973 घटनाएं दर्ज की गई।


महबूबनगर : उत्पादन गिरने से प्याज किसान परेशान
Nov. 09, 2018

तेलंगाना के महबूबनगर में प्याज किसानों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। जिले की काली मिट्टी को प्याज के बंपर उत्पादन के लिए उपयुक्त माना जाता है, लेकिन इस बार बारिश में उतार-चढ़ाव ने किसानों की मेहनत पर पानी फेर दिया है।


दिल्ली : दिवाली के बाद खतरनाक हुआ प्रदूषण लेवल
Nov. 08, 2018

दिवाली के बाद दिल्ली की हवा की और जहरीली हो गई। ज्यादातर इलाकों में एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) खतरनाक स्तर को पार कर गया। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के मुताबिक आनंद विहार इलाके में 999, चाणक्यपुरी में 459 और मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम के पास 999 दर्ज किया गया।


View more

Twitter Feed


Photo
/
फोटो