Video

आत्मबोधानंद के अनशन को 183 दिन पूरे


हरिद्वार के मातृ सदन में गंगा की अविरलता और निर्मलता को लेकर स्वामी आत्मबोधानंद को अनशन करते छह महीने से ज्यादा समय पहुंच गया है लेकिन सरकार ने उनकी मांगों पर ध्यान देने की जरूरत नहीं समझी. अब उन्होंने अपनी मांगें ना पूरी होने पर 27 अप्रैल से जल त्यागने का ऐलान कर किया है. आत्मबोधानंद ने एक वीडियो में ये भी कहा है कि अगर उनकी मौत होती है तो इसके लिए प्रधानमंत्री से लेकर मुख्यमंत्री जिम्मेदार होंगे. उत्तराखंड के हरिद्वार से देवेंद्र सागर की रिपोर्ट.





Videos
/
वीडियो