6-12 जुलाई के बीच उत्तर प्रदेश में एक और आंदोलन की गूंज सुनाई देगी, उत्तर प्रदेश किसान मज़दूर मोर्चा, प्रदेश के गन्ना किसानों की माँग, उनके बकाया और ब्याज जोड़ कर राशि भुगतान को लेकर अलग अलग ज़िलों में आंदोलन शुरू करने जा रहा है।
माँगें पूरी ना होने पर 15 जुलाई को लखनऊ में विशाल धरना दिया जाएगा,
इस मामले में किसान नेता #VMSingh ने UP के मुख्यमंत्री #YogiAdityanath को चिट्ठी भी लिखी है।
उन्होंने चिट्ठी में 2017 UP विधान सभा चुनाव के दौरान प्रधान मंत्री #Modi द्वारा गन्ना किसानों को 14 दिन के भीतर गन्ने के भुगतान किए जाने वरना 15% की दर से ब्याज दिलाने के वादे की भी याद दिलायी है कि गन्ना किसान आज साढ़े 4 साल बाद तक उस वादे के पूरा होने का इंतज़ार कर रहे हैं।
कोरोना काल में UP के गन्ना किसानों को राहत देने का क्या है आंदोलन का पूरा खाका,
सुनिए #HindKisan की किसान नेता #VMSingh से ये ख़ास