29 April 2021, कोरोना की ख़तरनाक जानलेवा लहर के बीच उत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव के लिए आख़री चरण का मतदान पूरा हुआ, चुनाव में जिनकी duty लगी उनमें से कितने अपनी जान से हाथ धो बैठे, कितनो के परिवार अभी भी डर के माहौल में जी रहे है क्यूँकि काउंटिंग duty अभी बाक़ी है,2 मई को है, अब बात करें जनता की, तो पंचायत चुनाव होने के कारण खबरें आ रही है कि गाँव के गाँव वोट डालने के बाद बीमार पड़ रहे हैं, संक्रमण तेज़ी से फैल रहा है, ऐसा क्यूँ? गाँव में इस बीमारी से लड़ने के लिए कितनी तैयारी है? कहते हैं ना कि ‘जान है तो जहान है’, फिर कोरोना काल में ये अहम सीख को अमल में लाने में क्यूँ चूक गयी सरकार? मतदान में क्यूँ हिस्सा ले रहे हैं लोग? सुनिए वाराणसी से मज़दूरों के अधिकारों के लिए काम कर रहे #मनरेगा​ ऐक्टिविस्ट, सुरेश राठौर को जो कि ‘राइट तो फ़ूड कैम्पेन’ के साथ भी जुड़े हुए हैं।