"> patient facing difficulties due to delay in implementation of ayushman yojana in gonda

patient

गोंडा : आयुष्मान योजना के लाभ के लिए भटकते मरीज

  • Team Hind Kisan
  • |
  • Nov. 10, 2018
उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले में केंद्र सरकार की महत्वकांक्षी आयुष्मान भारत योजना का बुरा हाल है। योजना को लागू करने की चाल इतनी धीमी है कि ये लोगों के लिए बेमानी साबित हो रही है।

Read more


इंदौर : आयुष्मान योजना से सुविधा कम, परेशानी ज्यादा

देश भर में शुरू हुई आयुष्मान योजना मध्य प्रदेश में बदइंतजामी की भेंट चढ़ती दिखाई दे रही है। योजना को लागू करने में जल्दबाजी के चलते इंदौर के मरीजों के लिए यह सहूलियत से ज्यादा परेशानी का सबब बन गई है।

Read more


नीमच: धूल फांकता लाखों की लागत से बना स्वास्थ्य केंद्र

  • Team Hind Kisan
  • |
  • Aug. 27, 2018
मध्य प्रदेश के नीमच में लाखों रुपये की लागत से बना प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र धूल फांक रहा है। लोकार्पण होने के बाद ना तो डॉक्टर आए और ना मरीज, अलबत्ता चोर-जुआरियों का अड्डा बन गया है। नीमच से विजित राव की रिपोर्ट।

Read more


उत्तर प्रदेश: इलाज कम, मुश्किलें ज्यादा

  • Team Hind Kisan
  • |
  • Jul. 26, 2018
उत्तर प्रदेश की आदित्यनाथ सरकार सस्ती और बेहतर स्वास्थ्य सेवा देने का दावा करती है। लेकिन सुल्तानपुर का जिला अस्पताल इसे ठेंगा दिखाता नजर आ रहा है। यहां आने वाले मरीजों को ना तो बेड मिलता है, ना ही दवा।

Read more


सरकार और ठेकेदारों के बीच फंसे मरीज

महाराष्ट्र के 18 सरकारी अस्पतालों में मरीजों को दवाईयां उपलब्ध नहीं हो रही है। लिहाजा मरीज मंहगी दरों पर निजी दुकानों से दवाईयां खरीदने को मजबूर हो रहे है। सरकार ने दवाई बेचने वाले ठेकेदारों का 90 करोड़ के बकाए का भुगतान नहीं किया जिस वजह से ठेकेदारों ने अस्पतालों में आपूर्ति ठप कर दी है। लेकिन इन सबके बीच मरीजों को मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है। देखिए इसरार चिश्ती की रिपोर्ट।

Read more


How fit is India?

  • Team Hind Kisan
  • |
  • Jul. 07, 2018
ऐसा लगता है कि मोदी जी का Fitness Challenge भी लोगों के स्वास्थ्य को ज़्यादा दुरुस्त नहीं कर पाया।देश में खासतौर से गरीब वर्ग इलाज पर हो रहे जेब खर्च से बेहद परेशान है।

Read more


नांदेड़: फडणवीस के राज में अस्पताल की बेशर्मी

महाराष्ट्र के नांदेड़ ज़िले के शंकरराव अस्पताल में व्हीलचेयर और स्ट्रेचर के अभाव में मरीज को घसीटकर ले जाया गया। दिल दहलाने वाली इस तस्वीर के सामने आने और मामले के तूल पकड़ने के बाद अस्पताल प्रशासन ने जांच समिति बना दी है।

Read more