Development

पीने के साफ पानी का इंतजाम नहीं

मंचों से विकास की बातें हो रही हैं असम में कार्बी आंगलोंग स्वायत्त जिला में लोग बूंद बूंद के पानी के लिए परेसान खेती करने वाले किसानों ने लगाई राज्य और केन्द्र सरकार से गुहार.

Read more


छतरपुर : जान जोखिम में डाल नदी पार करने की मजबूरी

  • Team Hind Kisan
  • |
  • Nov. 08, 2018
मध्य प्रदेश की शिवराज सरकार भले ही विकास के दावे कर रही हो, लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और ही है। छतरपुर जिले में एक अदद पुल के अभाव में ग्रामीणों को रस्सी के सहारे नदी पार करनी पड़ रही है।

Read more


गाजीपुर : ग्राम सभा में 77 लाख का घोटाला

उत्तर प्रदेश की सरकार भ्रष्टाचार मुक्त शासन देने के दावे कर रही है, लेकिन गांवों के विकास के लिए आने वाला पैसा घोटाले का शिकार हो रहा है।

Read more


अधूरे पड़े पुल से ग्रामीण परेशान

उत्तर प्रदेश में जनता ने विकास के दावे कर रही सरकार को आईना दिखाने का काम किया है। लगातार गुहार लगाने के बावजूद जब सरकार ने ध्यान नहीं दिया तो सीतापुर में ग्रामीण ने अपने दम पर कामचलाऊ पुल बना डाला।

Read more


झांसी : विकास के दावों की पोल खोलती सड़कें

  • Team Hind Kisan
  • |
  • Sep. 18, 2018
उत्तर प्रदेश के झांसी जिले में लोगों को सड़क पार करने के लिए बड़ी मशक्कत करनी पड़ रही है। झांसी से अजय झा की रिपोर्ट

Read more


ना सड़क, ना पुल, कैसे जाएं स्कूल

  • Team Hind Kisan
  • |
  • Sep. 13, 2018
देश में विकास के नाम पर बहुत से दावे हो रहे हैं। लेकिन बिहार के गया जिले में नौवां ग्राम पंचायत के लोगों की जिंदगी बारिश के मौसम में कैद होकर रह जाती है।

Read more


डायरिया की चपेट में आदिवासी इलाके

  • Team Hind Kisan
  • |
  • Sep. 06, 2018
मध्य प्रदेश में सतना के आदिवासी इलाके डायरिया की चपेट में हैं। अब तक की लोगों की मौत हो चुकी है। सतना से मृदुल पाण्डेय की रिपोर्ट।

Read more


प्रचार तक सिमटे स्वच्छता और विकास के नारे

  • Team Hind Kisan
  • |
  • Aug. 09, 2018
केंद्र सरकार गांवों के विकास के लिए तमाम योजनाएं चला रही है। लेकिन जमीनी हकीकत ये है कि केंद्रीय मंत्री का गांव ही बदहाली का शिकार है। स्वस्छता के नारे दीवारों तक सिमटे हैं तो सड़कों दलदल बनी हुई हैं। उत्तर प्रदेश के हमीरपुर से विनीत तिवारी की रिपोर्ट।

Read more


उत्तर प्रदेश: पुल के अभाव में लोगों की जाएगी जान

विकास के दावों के बीच उत्तर प्रदेश के गोंडा जिले में लोगों को नदी पार करने के लिए बांस और बल्ली से बने पुल का सहारा लेना पड़ रहा है। प्रशासन की अनदेखी से रोजाना सैकड़ों लोग अपनी जान जोखिम में डालने को मजबूर हैं।देखिए गोंडा से राजू मौर्य की ये रिपोर्ट।

Read more


मथुरा: नगला-सपेरा गांव में बदहाल ज़िंदगी

मथुरा के नगला-सपेरा गांव में सबकुछ दशकों पुराना है। कच्चे मक़ान, कोई शौचालय नहीं। बिजली का नामों-निशान नहीं। लोगों को रोज़गार नहीं। भीख मांगकर लोग गुज़ारा कर रहे हैं। देखिए मथुरा से मातुल शर्मा की रिपोर्ट।

Read more


जान पर खेलना रोज का काम है

  • Team Hind Kisan
  • |
  • Jun. 15, 2018
बिहार के सुपौल के परियाही गांव में न तो सड़क है और न ही नदी पार करने के लिए पुल। इलाके के लोग खुद ही बांस का पुल बनाते है और उसी पर आवाजाही करते है। बुनियादी सुविधाओं के अभाव में बाढ़ के दिनों में हालात और बिगड़ जाते हैं।

Read more


प्रधानमंत्री मोदी ने छत्तीसगढ़ की तस्वीर बदलने का दावा किया

  • Jun. 14, 2018
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का दावा है कि केंद्र की योजनाओं ने छत्तीसगढ़ की तस्वीर बदलकर रख दी। भिलाई में उन्होंने कहा कि प्रदेश के 13 लाख किसानों को फ़सल बीमा योजना का लाभ मिला है और इससे किसानों की मुश्किलें काफी कम हो गईं हैं।

Read more


ऐसे गहराया ग्रामीण संकट

  • May. 29, 2018
रेटिंग एजेंसियों की चिंता आम तौर पर कॉरपोरेट, बैंकिंग और वित्तीय सेक्टर होते हैं। वे कृषि एवं ग्रामीण क्षेत्रों पर भी निगाह इन क्षेत्रों के हितों को ध्यान में रखते हुए ही डालती हैं।

Read more


नागेपुर: प्रधानमंत्री का गोद लिया हुआ गांव

जयापुर के साल भर बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने वाराणसी के सांसद के बतौर दूसरा गांव गोद लिया। नागेपुर गांव में इसके खूब रंग-रोगन चढ़े, लेकिन गांव वालों की मुश्किलों का कोई अंत नहीं हुआ।

Read more


अगर इसे सड़क कहते हैं तो गड्ढा क्या है फिर?

उत्तर प्रदेश के ग़ाज़ीपुर में एक सड़क की मरम्मत के लिए लोग वर्षों से आंदोलन कर रहे हैं, लेकिन सरकार के पास बहाने ही बहाने हैं। ये ग़ाज़ीपुर को बिहार से जोड़ने वाली एकमात्र सड़क है।

Read more


कटिहार: जान हथेली पर लेकर लोग निकलते हैं घर से

आज़मनगर के लोगों के पास बुनियादी सुविधाएं उतनी ही है, जितनी एक क़स्बे में होती है। घर है, सड़क है, रोज़गार भी है, लेकिन बीच में उफ़ान मारती महानंदा से इनकी रोज़ाना मुठभेड़ होती है।

Read more