Report

ब्याज मुक्त कर्ज से किसान नाखुश क्यों?


हरियाणा की खट्टर सरकार ने ब्याज मुक्त फसली कर्ज की सीमा 1.5 लाख से बढ़ा कर तीन लाख रु कर दी है लेकिन इसमें एक पेच ये है कि सरकारी खरीद एजेंसियां किसानों के भुगतान में से कर्ज का पैसा काटने के बाद बकाया भुगतान करेंगी. सरकार के इस फैसले पर किसान नेता सवाल उठा रहे हैं.