Report

बच्चों के सपनों को मिली उड़ान


अगर हम आपसे कहे कि गांव के बच्चे हिंदी और अंग्रेजी के साथ-साथ फर्राटे से फ्रेंच भी बोलते हैं तो आपका रिएक्शन क्या होगा? ये बच्चे विदेश यानी फ्रांस तक जाने की तैयारी कर रहे हैं. बिहार के गया से पंकज कुमार की रिपोर्ट.