Latest News

पंजाब में बढ़े पराली जलाने के मामले

फोटो स्रोत- डीएनए इंडिया

पंजाब में धान की पराली जलाने के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। पंजाब प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के अनुसार इस साल 27 सितंबर से 9 नवंबर के बीच राज्य में पराली जलाने की कुल 39,973 घटनाएं दर्ज की गई। इनमें से 22,313 घटनाएं केवल 1 से 9 नवंबर के बीच सामने आई, जो पराली जलाने की अब तक की घटनाओं का 55 फीसदी है। बीते साल पराली जलाने के कुल 40,510 सामने आए थे। इनमें से 14,832 मामले 1 से 9 नवंबर के बीच दर्ज किए गए थे।

पंजाब और हरियाणा के किसान धान की फसल काटने के बाद खेतों में बची अवशेष को जला देते हैं, ताकि गेहूं बोने के लिए खेतों को खाली किया जा सके। इस साल पंजाब सरकार ने पराली को जलाए बगैर निपटाने के लिए किसानों को सब्सिडी पर लगभग 25,000 मशीनें उपलब्ध कराई हैं। इसके बावजूद किसान बड़ी संख्या में पराली जला रहे हैं। विशेषज्ञों ने पराली जलाने की घटनाओं में और तेजी आने की आशंका जताई है, क्योंकि अभी लगभग 24 प्रतिशत फसल की कटाई बाकी है।