Latest News

सरकारी नीतियों से नाराज किसान


पांच राज्यों में चुनावी सरगर्मी के बीच किसानों की नाराजगी जारी है। मंगलवार को दिल्ली के जंतर मंतर पर देश भर से आए किसानों ने सरकार की किसान विरोधी नीतियों के खिलाफ प्रदर्शन किया। कांग्रेस की अगुवाई में प्रदर्शन कर रहे किसानों ने केंद्र सरकार पर वादा खिलाफी का आरोप लगाया। किसानों ने पट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों पर भी नाराजगी जताई और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। बाद में किसानों ने संसद मांर्ग स्थित पुलिस स्टेशन जाकर गिरफ्तारियां दीं।

वहीं, उत्तर प्रदेश के झांसी में अपनी मांगों को लेकर बीते 14 दिनों से प्रदर्शन कर रहे किसानों की सुध लेने वाला कोई नहीं है। इससे नाराज किसानों ने अर्धनग्न होकर प्रदर्शन किया। किसान कृषि बीमा कम्पनी से खरीफ की फसल का भुगतान, नहरों की सफाई और आवारा जानवरों की समस्या दूर करने की मांग कर रहे हैं। मांगे ना माने जाने पर किसानों ने बड़ा आंदोलन करने की चेतावनी दी। इस बीच मध्य प्रदेश के राजगढ़ में भावांतर योजना से नाराज किसानों ने हंगामा कर मंडी में सोयाबीन की खरीद रुकवा दी। उनका कहना है कि सरकार ने सोयाबीन की कीमत प्रति क्विंटल 3100 रुपये तय की है, जबकि मंडी में व्यापारी 2500 से 2900 रुपये में खरीद रहे हैं। हालांकि, अधिकारियों के समझाने के बाद किसानों ने अपना प्रदर्शन बंद कर दिया।