Latest News

परली जलाने के मामले लगातार जारी


तमाम कोशिशों के बावजूद पंजाब और हरियाणा में पराली जलाने की घटनाएं लगातार जारी हैं। ये हाल तब है, जब पंजाब सरकार ने किसानों को पराली को बगैर जलाए निपटाने के लिए 650 करोड़ रुपये मशीनें मुहैया कराई हैं। इसके लिए किसानों और सहकारी समितियों को इन मशीनों पर 50 से 80 फीसदी तक सब्सिडी भी दी गई।

इसके अलावा सरकार ने किसानों को पराली जलाने से मिट्टी और हवा को होने वाले नुकसान को लेकर जागरूक करने की भी कोशिश की।
बावजूद इसके सैटेलाइट से मिले आंकड़े bata rahe hain ki बीते साल ke mukable is saal 25 फीसदी ज्यादा मामला सामने आए हैं।
इन सारी कोशिशों के बावजूद पराली जलाने की घटनाओं का कम ना होना चिंता बढ़ाने वाला है।

किसान पराली जलाने को दूसरे तरीके के मुकाबले सस्ता विकल्प बता रहे हैं। वो पराली को बगैर जलाए निपटाने के लिए सरकार से 200 रुपये प्रति क्विंटल के हिसाब से मदद की मांग कर रहे हैं। इसको लेकर पंजाब सरकार ने केंद्र को प्रस्ताव भेजा है, जिसे अब तक मंजूरी नहीं मिल पाई है।