Debate

विशेष चर्चा : आखिर कहां गुम हो गए किसानों के मुद्दे और उसे उठाने वाले आंदोलन?


एक साल पहले तक खेती-किसानी और गांवों का संकट हर किसी की जुबां पर था. किसानों की मांगों को लेकर ना केवल आंदोलन हो रहे थे बल्कि इसने लोक सभा चुनाव का मेन नैरेटिव भी तय किया था. लेकिन आज किसानों की समस्याओं और उनकी बदहाली की चर्चा ही बहस से गायब है. आखिर बीते एक साल में ऐसा क्या हुआ? क्या किसानों की समस्याओं का समाधान हो गया है इन्हीं सवालों के साथ देखिए हमारी ये विशेष चर्चा- आखिर कहां गुम हो गए किसान आंदोलन?