Home Vishesh Charcha

Vishesh Charcha

ज़िंदगी या चुनाव- क्या है ज़रूरी?

कोरोना की मौजूदा लहर में हर दिन जिंदगियाँ रेत की तरह फिसल रही हैं, समाज में लोग अपनों को खो रहे हैं...

किसान क्यूँ कर रहे हैं साइलोज़ का बहिष्कार?

हरियाणा हो या पंजाब, किसान अडानी के Silos में अपनी फसल देने से इंकार कर रहे हैं, हालाँकि Adani Agro Logistics का...

हरियाणा में फसल ख़रीदी को लेकर किसानों के अनुभव

हरियाणा में 1 April 2021 से गेहूँ की ख़रीदी शुरू हो गयी है लेकिन किसान मंडी में बारदाने की कमी से लेकर...

खाद के बढ़े दाम- क्या करें किसान?

किसानों के लिए खेती किसानी के खर्चे बढ़ते ही जा रहे हैं, डीज़ल के बढ़े रेट्स के बाद अब IFFCO और निजी...

क्या ‘गाँव बंद’ की रणनीति आएगी काम?

क्या गाँव बंद से गाँव सही मायनों में आत्मनिर्भर हो पाएँगे और गाँव में उपजी फसल, कच्चे माल के अभाव में क्या...

FCI बचाओ दिवस पर ख़ास!

किसान MSP गारंटी वाली व्यवस्था देने की माँग कर रहे हैं और सरकार PDS यानी पब्लिक डिस्ट्रिब्यूशन सिस्टम के लिए जो गेहूं...

किसान आंदोलन: पूरे हुए 4 महीने, क्या हुआ हासिल?

कृषि क़ानूनों का विरोध और MSP की गारंटी की माँग को लेकर देश भर में संयुक्त किसान मोर्चा ने आंदोलन के 120...

किसान महापंचायत की गूंज, दक्षिण भारत में भी

किसान महापंचायत की गूंज दक्षिण भारत के राज्य कर्नाटक में भी सुनाई दी, BKU के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत समेत दूसरे किसान...

ग़ाज़ीपुर बॉर्डर से किसानों का फूटा ग़ुस्सा

किसान आंदोलन को लगभग 4 महीने होने को आए, किसान सरकार की बेरुख़ी और उनकी माँग अनसुनी करने को लेकर काफ़ी ख़फ़ा...

किसान आंदोलन: राजनीति या आजीविका की लड़ाई?

किसान आंदोलन देश के अलग अलग राज्यों में बढ़ता जा रहा है, जिन ५ राज्यों में चुनाव है वहाँ केंद्र में सत्ताधारी...

कृषि आंदोलन: क्या है किसानों का मूड?

कृषि आंदोलन को 115 दिन होने को आए, इस बीच ये आंदोलन पंजाब-हरियाणा- उत्तर प्रदेश-राजस्थान-मध्य प्रदेश के बाद अब उन राज्यों में...

अनाज की ख़रीद को लेकर FCI की सख़्ती क्यूँ?

1 April से रबी मार्केटिंग सीज़न 2021-22 के लिए FCI ने अनाज ख़रीदी के नियमों में सख़्ती करने का प्रस्ताव सामने रखा...

‘रोटी को तिजोरी में नहीं बंद होने देंगे’

ग़ाज़ीपुर बॉर्डर में चल रहे किसान आंदोलन में मंच के पास बैठी महिलाएँ अपनी सेवा का दान देते दिखी और उन्हें ये...

सेब बागवानों को भी मिले लाभकारी मूल्य

कृषि आंदोलन के बीच पहाड़ी राज्यों के फल उत्पादकों ने भी MSP यानी न्यूनतम समर्थन मूल्य की माँग को सामने रखा है,...

किसान आंदोलन के 100 दिन पार, लोकतंत्र में ये कैसा पड़ाव!

हिंद किसान ने ग़ाज़ीपुर बॉर्डर पर डटे किसानों से की ‘मन की बात’, किसानों में अभी भी कितना धैर्य, कितना जोश बाक़ी...