Home Opinion

Opinion

मंडियां नहीं बचेंगी तो क्या होगा?

राज्यों ने एग्रीकल्चर मार्केटिंग प्रोड्यूस कमेटी यानी एपीएमसी एक्ट के तहत मंडियों को बनाया जिनसे किसानों को बड़ी सहूलियतें मिली हैं। मंडियों...

‘इन कानूनों से कृषि क्षेत्र में आमूलचूल परिवर्तन आएगा’

हिंदुस्तान के इतिहास में पहली बार वर्ष 2004 में अटल जी के कार्यकाल में राष्ट्रीय किसान आयोग की स्थापना की गई। वर्ष...

एमएसपी को क्यों नहीं मिल रहा कानूनी दर्जा?

संसद से पारित हो चुके कृषि विधेयकों के खिलाफ किसानों और उनके संगठनों ने 25 सितंबर को भारत बंद का ऐलान किया...

क्या एमएसपी के ताबूत में आखिरी कील साबित होंगे नए कृषि विधेयक

कोरोना संकट और लॉकडाउन के बीच मोदी सरकार ने जिस अफरा-तफरी में तीनों कृषि अध्यादेशों लाई, इन्हें विधेयक के रूप में संसद...

एग्रीकल्चर इंफ्रास्ट्रक्चर फंड किसानों को कितनी राहत दे पाएगा

सरकार आजकल देश के कृषि क्षेत्र को लेकर काफी गंभीर दिख रही है. कृषि और किसानों से जुड़े एक के बाद लगातार...

Kisan Mukti Bills Should Pave the Way to Resolve Agrarian Crisis

Being an agrarian society, Kisan andolans (movements by farmers) had a major role in keeping the farming community together which in turn, kept agriculture...

Brewing Agony In India’s Tea Plantations

While India takes pride in hosting the single largest tea producing region in the world, the workers toiling in Assam’s tea plantations have been...

Civil Society Demands Withdrawl of AP “Anti-People” Land Acquisition Amendment Bill

Various civil society organisations have come together to oppose the recent President’s assent granted to the amendments made in the Andhra Pradesh Land Acquisition...

How ‘Autonomy’ will kill the dream of an affordable and inclusive higher education

Higher education has always been limited to only a few in this country and the recent policy moves by the Government has increased the...

Will India’s National Clean Air Program scare away pollution?

-4.2 million deaths a year as a result of exposure to ambient (outdoor) air pollution. -3.8 million deaths every year because of exposure to smoke...

तीन वार्षिक योजनाएं और हरित क्रांति

तीसरी पंचवर्षीय योजना में आसमानी आफत और पड़ोसियों के हमलों से देश में भारी तबाही का असर कृषि पर सबसे ज्यादा पड़ा था। कृषि...

Is “Normal” Monsoon a Decent Indicator of Good Agricultural Output?

Recently, the India Meteorological Department (IMD) made the forecast that rainfall in June-September period is likely to be at 97 per cent of long...

Difficult Days for Bundelkhand

May 18 was a day of taking a tough decision for the Sahariya tribals living in Laalon village (Talbehat block of Lalitpur district, Uttar...

बैगाओं की ख़ास खेती- बेंवर

बैगा आदिवासियों की विशेष जीवन शैली और कम संख्या को देखते हुए भारत सरकार ने उन्हें ‘राष्ट्रीय मानव’ घोषित किया गया है। इसलिए मध्य...

Improving Educational Attainments is Critical for Human Development but, Where Have We Gone Wrong?

Educational progress precedes socioeconomic development which is why every country has heavily invested in its education system. Policy makers therefore cannot be oblivious of...