समाचार
  • मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात
  • पराली पर मुआवजा बढ़ाने के लिए केंद्र से मांगी आर्थिक मदद
  • पंजाब के फिरोजपुर में पराली के मुद्दे पर किसानों ने रोकी रेल
  • पराली जलाने पर दर्ज मामले वापस लेने की मांग
  • मांगें ना माने जाने पर पड़ा आंदोलन करने की चेतावनी
  • हरियाणा में भी रोक के बावजूद पराली जलाने के मामले
  • फतेहाबाद में सामने आए 18 मामले
  • पाबंदी ना मानने वाले किसानों पर सख्त कार्रवाई की तैयारी
  • पराली जलाने का दिल्ली की हवा में असर
  • दिल्ली में बढ़ा प्रदूषण का स्तर
  • 300 के पार पहुंचा एयर क्वालिटी इंडेक्स
  • राजस्थान के जयपुर में गहराया ज़ीका वायरस का संकट
  • सौ पहुंची मरीजों की संख्या
  • मच्छरों पर काबू पाने के उपाय तेज

From The Desk

जंगलों की आग से भारत को सालाना 1,100 करोड़ रुपये का नुकसान

फोटो स्रोत- डाउन टू अर्थ

देश में जंगलों में आग लगने से सालाना लगभग 1101 करोड़ रुपये का नुकसान होता है। जंगलों में आग लगने की घटनाओं पर पर्यावरण मंत्रालय और विश्व बैंक ने ‘स्ट्रेन्थनिंग फॉरेस्ट फायर मैनेजमेंट इन इंडिया’ रिपोर्ट जारी की है। इसके मुताबिक साल 2003 से 2016 के बीच जंगलों में आग लगने की 44 फीसदी घटनाएं देश के 20 जिलों में हुईं। इनमें पूर्वोत्तर के राज्य सबसे आगे रहे। इसमें देश के 70% जंगलों में आग लगने का जोखिम बताया गया है।

इस रिपोर्ट में जंगलों में आग की घटनाएं रोकने के लिये जनभागीदार वाली वाली दीर्घकालिक कार्य योजना बनाने की सलाह दी गई है। ये भी कहा गया है कि मौजूदा नीति में जंगल में आग रोकने की स्पष्ट रणनीति का अभाव है। हालांकि, इसमें जंगलों में आग लगने की जानकारी लेने के लिए उपग्रह के बेहतर इस्तेमाल की सराहना की गई है। इसका सबसे पहले मध्य प्रदेश में प्रयोग किया गया था।