From The Desk

दूध उत्पादकों की प्रदर्शन की चेतावनी


महाराष्ट्र के बाद अब हिमाचल प्रदेश में रामपुर के दूध उत्पादकों ने दाम बढ़ाने की मांग को लेकर 16 जुलाई को प्रदर्शन करने की चेतावनी दी है। हिमाचल किसान सभा की बैठक में दूध उत्पादकों ने इसका ऐलान किया। इनकी मांग है कि दूध की न्यूनतम कीमत 30 रुपए हो। इसके अलावा किसान पशुओं के लिए चारा, चोकर और दाने जैसी चीजें को भी सरकारी दुकानों से मुहैया कराने की मांग कर रहे। राज्य में बाजार में दूध की क़ीमत 50 से 60 रुपए प्रति लीटर है लेकिन दूध उत्पादक सहकारी समिति मिल्कफेड को 17 से 19 रुपए में बेचने के लिए मजबूर हैं। इसके अलावा उन्हें समिति की दूसरी लापरवाही के चलते भी अक्सर नुक़सान उठाना पड़ता है। दूध उत्पादकों की शिकायत ये भी है कि पशुपालन पर मिलने वाली सब्सिडी का फायदा भी छोटे किसानों के बजाए बड़े किसानों या डेरी उद्योग चलाने वालों के हिस्से में चला जाता है। रामपुर के दूध उत्पादक पहले भी दूध की क़ीमत बढ़ाने की मांग को लेकर प्रदर्शन कर चुके हैं।