समाचार
  • यूपी और महाराष्ट्र में सड़कों पर उतरे किसान
  • महाराष्ट्र में गन्ने की पर्चियां ना मिलने से नाराज
  • सोलापुर-बीजापुर हाइवे किया जाम
  • एफआरपी के साथ प्रति क्विंटल 200 रुपया ज्यादा भुगतान की मांग
  • मांगे ना माने जाने तक मिल को गन्ना ना देने का एलान
  • उत्तर प्रदेश के बागपत में किसानों ने किया चक्का जाम
  • बकाया भुगतान ना मिलने से नाराज
  • प्रशासन का जल्द भुगतान का आश्वासन
  • उत्तर प्रदेश के मिर्जापुर में किसानों ने किया प्रदर्शन
  • सूखी फसलें हाथ में लेकर किया नेशनल हाइवे जाम
  • सिंचाई के लिए नहर से पानी ना मिलने से गुस्से में
  • नहीं थम रहे किसान आत्महत्याओं के मामले
  • महाराष्ट्र में कर्ज से परेशान एक और किसान ने दी जान
  • गुजरात में किसान ने की आत्महत्या की कोशिश
  • मुख्यमंत्री विजय रुपानी के कार्यक्रम में जहर पीने की कोशिश

From The Desk

ओडिशा : किसानों की मांगों पर विचार करेगी मंत्रियों की समिति

फोटो स्रोत- द हिंदू

ओडिशा सरकार ने आंदोलनकारी किसानों की मांगों पर विचार करने के लिए तीन सदस्यीय मंत्रियों की समिति गठित की है। इसमें वित्त मंत्री, पंचायती राज मंत्री और सहकारी मंत्री शामिल हैं। सरकार के फैसले के बाद वित्त मंत्री एस बी बेहेरा ने किसानों से आंदोलन वापस लेने और घरों को लौट जाने की अपील की। उन्होंने कहा कि ओडिशा सरकार किसानों की भलाई के लिए प्रतिबद्ध है।

इस बीच किसानों की अगुवाई कर रहे नव निर्माण कृषक संगठन (एनएनकेएस) ने सरकार की ओर से गठित समिति को खारिज कर दिया है। फिलहाल किसान नेशनल हाईवे-55 पर धरने पर बैठे गए हैं, क्योंकि पुलिस ने उन्हें राजधानी भुवनेश्वर में नहीं प्रवेश करने दिया है। आंदोलनकारी किसान फसलों की उचित कीमत, बुजुर्ग किसानों के लिए पेंशन और राज्य के 36 लाख किसानों के लिए सम्मान शामिल है। किसान कटक और खुर्दा से पैदल चलकर भुवनेश्वर पहुंचे हैं। इसका कांग्रेस और बीजेपी ने भी समर्थन किया है।