समाचार
  • सुप्रीम कोर्ट ने आधार को संवैधानिक रूप से वैध करार दिया लेकिन बैंक अकाउंट और मोबाइल नंबर को आधार से जोड़ना जरूरी नहीं
  • स्कूल, कॉलेज में दाखिले के लिए आधार नंबर की मांग नहीं की जा सकती है
  • किसी भी बच्चे को आधार के बिना सरकारी योजनाओं का लाभ देने से इनकार नहीं किया जा सकता है
  • आयकर और पैन कार्ड के लिए अब भी जरूरी आधार

From The Desk

काली मिर्च के गिरते दाम से किसान परेशान

फोटो स्रोत - द हिंदू

काली मिर्च के कम उत्पादन के बावजूद गिरते दामों ने किसानों को परेशानी में डाल दिया है। तमिलनाडु, केरल और कर्नाटक तीनों काली मिर्च के शीर्ष उत्पादक राज्य है। केरल के व्यापारियों के मुताबिक वायनाड में साल 2017 में काली मिर्च की कीमत 760 से 600 रुपए किलोग्राम थी, लेकिन उसके बाद गिरकर 500 रुपए किलोग्राम तक हो गई है। फ़िलहाल इसकी कीमत 300 रुपए से 310 रुपए किलोग्राम पर पहुंच गई है। व्यापारियों के मुताबिक़ वियतनाम से आयात बढ़ने के कारण देश में काली मिर्च के दामों में कमी आई है। वियतनाम से श्रीलंका के जरिए भारत में काली मिर्च का आयात हो रहा है। ‘इंडो श्रीलंका फ्री ट्रेड’ के तहत भारत श्रीलंका से 2,500 टन काली मिर्च का आयात कर सकता है। इसके लिए भारत को सिर्फ 8 फीसदी आयात शुल्क देना होगा। वहीं आसियान व्यापार समझौते के तहत वियतनाम से सीधे आयात पर 52 फीसदी आयात शुल्क देना होगा। साल 2017 में काली मिर्च का घरेलू उत्पादन 55000 टन हुआ था जबकि 35000 टन का आयात किया गया था। जिसमें से अकेले श्रीलंका से 20,000 हजार टन का आयात किया गया। वियतनाम, इंडोनेशिया और ब्राजील से भी काली मिर्च का आयात किया गया।