समाचार
  • मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात
  • पराली पर मुआवजा बढ़ाने के लिए केंद्र से मांगी आर्थिक मदद
  • पंजाब के फिरोजपुर में पराली के मुद्दे पर किसानों ने रोकी रेल
  • पराली जलाने पर दर्ज मामले वापस लेने की मांग
  • मांगें ना माने जाने पर पड़ा आंदोलन करने की चेतावनी
  • हरियाणा में भी रोक के बावजूद पराली जलाने के मामले
  • फतेहाबाद में सामने आए 18 मामले
  • पाबंदी ना मानने वाले किसानों पर सख्त कार्रवाई की तैयारी
  • पराली जलाने का दिल्ली की हवा में असर
  • दिल्ली में बढ़ा प्रदूषण का स्तर
  • 300 के पार पहुंचा एयर क्वालिटी इंडेक्स
  • राजस्थान के जयपुर में गहराया ज़ीका वायरस का संकट
  • सौ पहुंची मरीजों की संख्या
  • मच्छरों पर काबू पाने के उपाय तेज

From The Desk

उत्तर प्रदेश: ओलावृष्टि से तबाह हुईं फ़सलें


पश्चिमी उत्तर प्रदेश और पंजाब में गुरुवार को तेज बारिश और ओले गिरने से किसानों को भारी नुकसान उठाना पड़ा है। सहारनपुर और बिजनौर जिले में किसानों के खेतों में खड़ी धान और गन्ने की फसलें बर्बाद हो गई हैं। बिजनौर में किसानों को फसल खराब होने से भारी नुकसान हुआ है। यही हाल सहारनपुर जिले में का भी है। तेज हवाओं ने खेत में खड़ी धान की फसल को चौपट कर दिया है। धान और गन्ने के अलावा जिले में आलू, गाजर, मूली, गोभी, शलजम जैसी कई सब्जियां भी बर्बाद हो गई है। इतना ही नहीं हरी घास के खराब होने से किसानों को मवेशियों के चारे का भी डर सता रहा है। बेमौसम बरसात ने पड़ोसी राज्य पंजाब में जमकर नुकसान पहुंचाया है। पटियाला में ओलावृष्टि से धान की फसल खराब होने से किसान खासी मुश्किल में है। सैकड़ों एकड़ फसल खराब होने से किसान सरकार से मुआवजे की मांग कर रहे है।