Conversation

वर्चस्व टूटने की बेचैनी


मराठा, जाट या पाटीदार जैसी दबंग जातियां आज आरक्षण क्यों मांग रही हैं? क्या इसकी वजह बढ़ता कृषि संकट है? या पुराने सामाजिक वर्चस्व के टूटने से पैदा हुई अपनी बेचैनी का इज़हार वे आरक्षण की मांग के लिए आंदोलन छेड़ कर कर रही हैं? मशहूर समाजशास्त्री सतीश देशपांडे ने ऐसे सवालों का ख़ास अध्ययन किया है। देखिए उनसे हमारी विशेष बातचीत।