Conversation

अब रुकेगी ‘मॉब लिंचिंग’?


देश भर में ‘मॉब लिंचिंग’ यानी (शक के आधार पर) किसी को पीट-पीट कर मार डालने की बढ़ती घटनाओं के बीच सुप्रीम कोर्ट ने कड़ी टिप्पणियां की हैं। कोर्ट में मामला कथित गौ-रक्षकों की हिंसक गतिविधियों के कारण आया था। अब उस मामले में कोर्ट ने फैसला रिजर्व कर लिया है। इस बीच कोर्ट ने कहा कि लिंचिंग चाहे गौ-रक्षा के नाम पर हो या बच्चा चोरी के शक में- वह अपराध है, जिसे रोकना कोर्ट का फर्ज़ है। तो क्या आशा की जाए कि अब ‘मॉब लिंचिंग’ नहीं होगी? क्या सरकारें सचमुच कोर्ट की भावना के मुताबिक सख्त कदम उठाएंगीं। इन सवालों पर एक ख़ास चर्चा।