समाचार

Bharat Dogra

ग्रामीण विकास की समग्र समझ बने

ग्रामीण विकास के विभिन्न पक्षों- जैसे कृषि, गैर-कृषि रोजगार, पर्यावरण की रक्षा और समाज-सुधार आदि पर अलग-अलग विचार होता रहा है। यह अपने में उपयोगी हो सकता है, पर इससे समग्र नियोजन में कठिनाई भी आती है।

Read more


आज बहुत याद आते हैं डॉ. रिछारिया

मौजूदा खेती-किसानी के संकट के बीच जब हम सही नीतियों और तकनीक की तलाश करते हैं, तो हमें एक शीर्ष के कृषि वैज्ञानिक बहुत याद आते हैं, क्योंकि उन्होंने जो सीखा और सिखाया एवं जिस के लिए संघर्षरत रहे, उस ज्ञान के आधार पर आज खेती-किसानी के संकट के समाधान में सहायता मिल सकती है।

Read more


Indigenous Seeds Denied Recognition

India underwent an agricultural transformation during the 1960’s. The Third Five Year Plan (1961-66) brought along with it “Green Revolution”, a new agrarian strategy which is often credited for revolutionizing the farming practices of the country.

Read more


The Not-So "Green" Revolution

While Green Revolution has often been touted as one of the biggest revolutions in India’s farming history, hard hitting evidences proving otherwise, continue to pour in from several parts of the country.

Read more


Linking Organic Farmers to Consumers

In the context of the crisis situation of farmers, the most discussed issue has been the extent to which the procurement price can be increased. However a neglected issue which may be even more important is the extent to which the farming costs can be decreased.

Read more